समर्थक

05 November, 2010

"दीपावली-अंक" (बाल चर्चा मंच-27)

------------------
दीपावली की व्यस्तता है
इसलिए बिना टीका-टिप्पणी के
सीधी-सादी चर्चा ही देखिए!
चर्चा मंच पर पोस्ट बहुत ज्यादा हो जाती है!
इसलिए अक्सर नन्हे-सुमनों की
चर्चा का दीपावली-अंक 
के पटल पर प्रस्तुत कर रहा हूँ!
प्रेम से करना "गजानन-लक्ष्मी" आराधना।
आज होनी चाहिए "माँ शारदे" की साधना।।

अपने मन में इक दिया नन्हा जलाना ज्ञान का।
उर से सारा तम हटाना, आज सब अज्ञान का।।

आप खुशियों से धरा को जगमगाएँ!
दीप-उत्सव पर बहुत शुभ-कामनाएँ!!
------------------
आज सबसे पहले 

आज मम्मी ने मुझे बताया की दीपावली आगई है तो मैंने ममा से पूछा 
दीपावली में हम क्या करेंगे ....ममा ने मुझे दीपावली से जुड़ी बहुत सी बातें बताई 
और बताया कि ...
------------------
------------------

*दीपावली के इस **खूबसूरत** त्योहार के लिए 
सुख -समृद्धि और प्रेरणा का सन्देश लेकर** **आ रही हैं 
-तीन संवेदनशील कवयित्रियाँ-डॉ भावना कुँअर , रचना श्रीवास्तव और मंजु मिश्र...
------------------

जंगल में मनी दीवाली चारों तरफ फैली खुशहाली शेर ने पटाखे छुड़ाये 
लोमड़ी ने दिये जलाये बन्दर करता खूब धमाल 
भालू नाचे अपनी चाल हाथी सब खा गया मिठाई 
गिलहरी ने रो...
------------------

आज तो दीपावली है. ढेर सारी फुलझड़ियाँ छुड़ाने का दिन. 
पटाखों से तो मुझे बहुत डर लगता है. 
उनकी आवाज़ सुनकर तो मैं अपने कान बंद कर लेती हूँ... 
और हाँ, आज तो ल...
------------------

  • ** *दीपक बन कर जलना सीखें * *घोर तिमिर का नाश करें * 
    *हृदयाकाश आलोकित हो * *ज्योतिर्मय विश्वास भरें *
     *सभी को दीपावली के पावन पर्व की हार्दिक शुभकामनायें
------------------

"हैपी दीवाली" आज रूद्र जी बस यही बोल ते हुए पूरे घर में घूम रहे हैं . 
पापा तो बहुत व्यस्त हैं फिर भी नजर ना लगेईस साल भी दादी जी साथ ही हैं 
और इश्वर करे जब...
------------------
------------------


  • *नन्हा दीपक कितना प्यारा * *सबको देता है उजियारा *
    *देखो उसकी हिम्मत कितनी * *छोटा है पर सूरज जितनी* 
    *पूरा घर रौशन करता है* *ना वो अँधेरे से डरता है* *...
----------


आज आप लोगों से बहुत दिनों बाद मिलना हुआ। 

इसका एक कारण तो हमारे घर में व्यस्तता का माहौल बना होना है। 

आप सभी को मालूम ही हो गया होगा कि इन दिनों हमारे पिता...
------------------

ये है मेरा प्यारा दोस्त डोरेमोन. हम दोनों की तरफ से आप सबों को दीपावली की शुभकामनाएँ . 
आज तो मैं सिर्फ शुभकामना दे रहा हूँ कल हम सब मिलकर मिठाइयाँ खायेंगे...
------------------
---------------------

आज पार्थवी आपसे मालूम कर रहीं हैं!
इसमे क्या गलती है ?? what is the Mistake in this ?? 
*सिद्ध करो :* *एक रुपया =एक पैसा* *गणितीय हल :* 

*बायां भाग लेने पर (L.H.S.) = एक रुपया* * ......
---------------------

 आज कार्टून की जगह मेरा चुलबुलापन ही देखिये...
------------------

*पिता हो गये मां* 
** पिता दहा्ड़ते मेरा विद्रोह कांप जाता मां शेरनी की तरह 
गुत्थमगुत्था करती बच्चों को बचाती दुलराती प...
------------------

दिन है सुहाना, आज पहली तारीख है. आज से शुरू हो रहा है नवंबर महीना.अगले महीने यानी दिसंबर की बीस तारीख को पंखुरी का सेकेण्ड बड्डे होगा , ये तो आपको पता ही ह..
------------------


-एक हवा थी हल्की-हल्की, एक हवा थी भारी। 
एक हवा चुपके से आई, एक ने धूल बुहारी। 
एक हवा थी ठंडी-ठंडी, एक थी गरम भभूका। 
एक हवा खुशियॉं ले आई, एक दुखों का...
------------------

Click Here.....A black page will display....
click on anywhere on that BLACK PAGE and see.....
you must enjoy !!!.
----------
और अन्त में-
-----------------------

टॉम-फिरंगी प्यारे-प्यारे। *दोनों चौकीदार हमारे।। * *
* *हमको ये लगते हैं अच्छे। * *दोनों ही हैं सीधे-सच्चे।। * ..
---0---0---0---

12 comments:

  1. सराहनीय लेखन........
    +++++++++++++++++++
    चिठ्ठाकारी के लिए, मुझे आप पर गर्व।
    मंगलमय हो आपके, हेतु ज्योति का पर्व॥
    सद्भावी-डॉ० डंडा लखनवी

    ReplyDelete
  2. बहुत मीठी मीठी दीपावली कि चर्चा ....

    चिन्मयी को शामिल करने के लिए धन्यवाद !

    आपको दीपावली कि हार्दिक शुभकामनाये !

    ReplyDelete
  3. बहोत ही प्यारी चर्चा रही .....................सभी को दिपोत्सव की ढेरों शुभकामनाएँ

    ReplyDelete
  4. बहुत सुन्दर बाल चर्चा लगाई है।
    दीप पर्व की हार्दिक शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  5. बहुत सुन्दर बाल चर्चा ......दीपावली की हार्दिक शुभकामनाये

    ReplyDelete
  6. दीपावली का ये पावन त्‍यौहार,
    जीवन में लाए खुशियां अपार।
    लक्ष्‍मी जी विराजें आपके द्वार,
    शुभकामनाएं हमारी करें स्‍वीकार।।

    ReplyDelete
  7. उत्तम चर्चा.


    सुख औ’ समृद्धि आपके अंगना झिलमिलाएँ,
    दीपक अमन के चारों दिशाओं में जगमगाएँ
    खुशियाँ आपके द्वार पर आकर खुशी मनाएँ..
    दीपावली पर्व की आपको ढेरों मंगलकामनाएँ!

    -समीर लाल 'समीर'

    ReplyDelete
  8. बहुत सुन्दर चर्चा....दीपावली की शुभकामनाये

    ReplyDelete
  9. बहुत सुन्दर रही दीवाली...बधाई.

    ReplyDelete

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin