समर्थक

10 November, 2010

" जन्म-दिवस की मीठी याद" (बाल चर्चा मंच-28)

चर्चा मंच पर पोस्ट बहुत ज्यादा हो जाती है!
इसलिए प्यारे-प्यारे नन्हे-सुमनों की
चर्चाएँ अक्सर छूट जाती हैं!
-------------------
आज प्रस्तुत है-
बच्चों के ब्लॉगों की चर्चा का
दीपावली के बाद का यह 28वाँ सुमन!

------------------
आज सबसे पहले बारी है
ख़ुशियों की बरसात हुई जब 
-------- सरस पायस चार साल का हो चुका ....
सरस पायस को जन्मदिवस की हार्दिक बधाई!
------------------
अब चर्चा करते हैं-
-मैंने आपको बताया ही था कि इस बार अपने घर और फ्रेंड्स से दूर 
हमें दीपावली के दिन यहाँ बहुत अकेलापन महसूस हो रहा था . 
उधर न्यूजर्सी में हमारे जानने वालों ...
------------------
 पार्थवी दे रही हैं
विज्ञान की यह जानकारी
*एक पुराना गुर रट्टा ..... **Cram an old method* *
**यूँ ही नहीं आ जाती किसी विषय में महारत उस के लिए करनी पडती है 
मेहनत और मेहनत भी तब होती है जब रूचि हो और...
------------------
अब देखिए- 
माधव का
ट्रेन टिकट का इन्तेजाम हो चुका है 
.अबकी बार मगध एक्सप्रेस में टिकट कटा है , 
आज आठ बजे ट्रेन है . सब ठीक ठीक रहा तो कल दोपहर तक 
दादाजी के पास आरा में रहूंग...
------------------
रंगोली... का तो जवाब ही नही है
-दीपावली के दिन नेहा चाची ने बहुत सुन्दर रंगोली बनाई... 
रंगोली की सुरक्षा के लिए पुरे इंतजाम भी किये गए.. 
मैंने भी सुरक्षा व्यवस्था का पूरा सम्मान कि...
------------------
आप भी कुछ नटा कीजिए ना!-
*आजकल मेरा शेड्यूल थोड़ा बीजी हो गया है | 
मैं कई नयी नयी चीज़ें सीख रहा हूं | 
पिछले कई दिनों से ममा पापा दोनों ने मेरी क्लास लगा रखी है | 
शाम के समय एक दिन ...
------------------
हम तो पहचान गये, आप भी पहचान लीजिए! 
* * * * *चिडिया अपने सींग के साथ मुस्कुराती हुई * * 
* * * *चिडिया सींग लगा के कुछ गुनगुनाती हुई * 
*हुम्म तो मेरी फ़ोटो खींची जा रही है चुपके चुपके * * 
* *चलो...
------------------
 BAL SAJAG पर देखिए-
अधिकारों के पर्ति सजग करतीः
यह सुन्दर कविता :अधिकार 
अधिकार जनमत निर्माण हमारा है , 
मानव-धिकार हमारा है ...... 
सूचना का अधिकार हमारा है , 
जन कल्याण हमारा है ...... 
जनता को शिक्षा की राह दिखलाता है , वह जनमत नि...
------------------
बाल-मन पर पढ़िए
संजीव 'सलिल' की यह बाल कविता!
अंशू-मिंशू दो भाई... - -संजीव 'सलिल'- 
अंशू-मिंशू दो भाई हिल-मिल रहते थे हरदम साथ. 
साथ खेलते साथ कूदते दोनों लिये हाथ में हाथ.. 
अंशू तो सीधा-सादा था, मिंशू था बातूनी. ख्वाब देखता...
------------------
लविज़ा : एक प्यारी-सी ब्लॉगपरी
सारे पैरंट्स की चाहत होती है कि वे अपने बच्चों को बेहतरीन परवरिश दें। 
वे कोशिश भी करते हैं, फिर भी 
ज्यादातर पैरंट्स बच्चों के बिहेवियर और परफॉर्मेंस से खुश...
------------------
cat
*बिल्ली मौसी बिल्ली मौसी, 
* *क्यों इतना गुस्सा खाती हो। * 
*कान खड़ेकर बिना वजह ही, * 
*रूप भयानक दिखलाती हो।।...
------------------
नन्हा मन पर भी दीवाली पर कुछ है-
*आत्म अवलोकन - सदाचार की दिवाली * *
* *कार्तिक का सुहाना महीना आया * 
*हेमंत ऋतु संग दिवाली लाया * 
*पर्व पांच दिनों का खुशियाँ लाया * 
*स्कूलों - कालेजों की छुट...
------------------
Ladli की 
फुलझड़ी की चमक .... तो देखते ही बनती है
-रौशनी करते ही फुलझड़ी की चमक उठी नन्‍हीं की आंखे भी 
उसने भी अपनी छोटी सी हथेली को फैलाया 
उसे पकड़ने के लिऐ रौशनी में उसका उछलना हर्षित कर गया मन को ...
-------------------
पंखुरी बेटी आजकल बेहद खुश हैं. 
वजह है चारों ओर झिलमिल करती रोशनी की झालरें , 
लतरें और लडियाँ...! 
बिटिया को वैसे भी झिलमिल रोशनी बेहद प्रिय है , जिसे देख क...
------------------
 sparsh ने बनाया है यह सुन्दर बधाई पत्र!
 ये देखिये मैंने अपना कार्ड कितनी खूबसूरती से सजाया है . 
अच्छा लगा न. मैंने पेपर के टुकरे को काट काट के अनार बनाया है . 
बढ़िया है न.
------------------
अरे वाह जादू पर भी बिल्ली मौसी!
-पता है, कल मंगेश अंकल का जन्‍मदिन था। 
मैं पापा-मम्‍मा को लेकर उनके घर बोरीवली ईस्‍‍ट गया। 
और वहां मैंने उनके साथ केक भी काटा। 
ये देखिए मैं केक के एकदम ...
--------------
 नन्ही परी दे रहीं है
 -दीपावली की ढेरो शुभकामनायें!
------------------
और अन्त में-
------------------
-Happy Diwali Click on the below link. 
You will get a black page. 
Click your mouse anywhere (& everywhere) on the page 
& see what happ...
------------------
आज की बाल चर्चा में केवल इतना ही!

11 comments:

  1. बहुत सुन्दर चर्चा। इन सुन्दर सजीले राजदूलारे, राजदुलारी को सुबह 2 देख मन हर्षित हुआ,यहाँ जादू अंकल का जन्म दिन मना रहे है, सही है, शुभ दीपावली......

    ReplyDelete
  2. मैं तो पहले भी कह चुका हूं ,कि मासूम बच्चों की मुस्कुराहट को समेटता और बिखेरता हुआ ये मेरा पसंदीदा ब्लॉग है । शुक्रिया बुलबुल को दोस्तों से मिलवाने के लिए

    ReplyDelete
  3. bahut achchhi balcharcha.bachchon ki rachnasheelta ko protsahan dene wala yah sarvotam manch hai.

    ReplyDelete
  4. बहुत अच्छी चर्चा..... मेरी पोस्ट को जगह देने के लिए धन्यवाद

    ReplyDelete
  5. बहुत अच्छी चर्चा..... मेरी पोस्ट को जगह देने के लिए धन्यवाद

    ReplyDelete
  6. आदरणीय नानाजी .....बाल ब्लॉगर चर्चा इस बार भी हमेशा की ही तरह बहुत बेहतरीन रही .
    आभार

    ReplyDelete
  7. बहुत सुन्दर और मेहनत से की गयी चर्चा ....बच्चों के ब्लोग्स का यहाँ से पता चल जाता है ...आभार

    ReplyDelete
  8. Thank you Dr. Uncle !
    for placing my every post on Bal Charcha Munch.....
    This is a place where I can meet my friends !

    ReplyDelete
  9. आपका स्नेह पाकर "सरस पायस" बहुत ख़ुश है!

    ReplyDelete
  10. प्यारी चर्चा...
    अले वाह, आज तो बाल दिवस है. सभी को बधाई और हम बच्चों को मिले मिठाई...

    ReplyDelete

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin